बड़ों के आचरण से शिष्टाचार सीखते हैं बच्चे

How Children Learn Manners
बड़ों के आचरण से शिष्टाचार सीखते हैं बच्चे

हम प्राय: बच्चों को अपने तरीके से संस्कारित करने का प्रयास करते हैं। हम उन्हें कहते हैं कि ऐसा करो या ऐसा मत करो। सारा दिन उपदेश देते रहते हैं।

बच्चा इन उपदेशों से दुखी रहता है। कुछ व्यक्ति तो खुद मेहमानों का यथोचित स्वागत या अभिवादन नहीं करते लेकिन अपने बच्चों से चाहते हैं कि वे हर आने-जाने वाले का स्वागत व अभिवादन ठीक से करें।

kids serving tea to guests wallpaper Every parent dreams of the polite child who says "please" and "thank you."

जहां तक बहुत छोटे बच्चों का संबंध है उनका बड़ों की ही तरह स्वागत या अभिवादन करना बिल्कुल जरुरी नहीं। इसका यह अर्थ नहीं है कि वे आगंतुकों से मिलना-जुलना या उनका प्यार पाना नहीं चाहते। वे भी उनका प्यार पाना चाहते हैं लेकिन अपने तरीके से।

हो सकता है बच्चा संकोच कर रहा हो, ऐसे में उसे कुछ समय देना चाहिए। संकोच के समय बच्चे से बलपूर्वक कुछ करवाना तो उसे जिद्दी बनाना है।

वास्तव में बच्चे अपने ढंग से शुरुआत करना चाहते हैं। कई बार वे शब्दों से नहीं, अपने कार्यों से अपनी उपस्थिति दर्ज करवाना चाहते हैं। बच्चों का मेहमानों या आगंतुकों के लिए पानी या जलपान स्वयं ले जाने की जिद करना भी अभिवादन ही तो है।

आप मेहमानों के लिए पानी या नाश्ता वगैरह ले जाते हैं तो बच्चा भी ऐसा करने की कोशिश करता है। बच्चों से मेहमानों का जैसा स्वागत आप करवाना चाहते हैं तो वैसा ही आप स्वयं कीजिए।

यदि आप में शिष्टाचार है तो बच्चा भी वैसा ही शिष्टाचार अपना लेगा। इसलिए बच्चों को अच्छे संस्कार देने के लिए माता-पिता व दादा-दादी को बच्चों से जिद करने की बजाय उनके सामने अच्छे व्यवहार का प्रदर्शन करना चाहिए। बड़ों के आचरण से ही बच्चा शिष्टाचार ग्रहण करता है।

यहां पढें प्रेरणादायक कहानियों का संग्रह

तो दोस्तों, आपको यह लेख कैसा लगा। हमें comments के माध्यम से जरुर बताएं और आपके comments हमें और प्रेरणादायक लेख आपके सामने प्रस्तुत करने की प्रेरणा देते हैं। इस लेख को अपने मित्रों व रिश्तेदारों के साथ जरुर सांझा करें। धन्यवाद्! 🙂

यदि आपके पास भी कोई ऐसा ही Motivational Article है जो कि आप हमारी इस वेबसाइट पर अन्य लोगों के साथ share करना चाहते हैं तो आप हमें अपने नाम और फोटो सहित वह लेख ईमेल कर सकते हैं। हम आपके द्वारा भेजा हुआ लेख आपके नाम और फोटो सहित प्रकाशित करेंगे। हमारी email id है – hinglishtalk@gmail.com

Tags – Hindi Story, Motivational Stories in Hindi, Inspiring Short Stories, Life Changing Stories, Moral Stories, Short Stories in Hindi, Stories for Students

Leave a Reply

Your email address will not be published.