कब्ज़ से छुटकारा पाने के लिए घरेलु नुस्ख़े

कब्ज़ के बारे में हम अक्सर खुल कर बात नहीं करते हैं। लेकिन ये काफी आम सी बीमारी है जो हर किसी को कभी न कभी तो हो ही जाती है। शरीर में पानी की कमी, diet में पोषण की कमी, exercise न करना और ख़राब lifestyle की वजह से लोगों को कब्ज़ जैसी बीमारी झेलनी पड़ती हैं।

कब्ज़ रोगियों में पेट फूलने की शिकायत आमतौर पर मिलती है। वैसे तो यह रोग किसी भी उम्र में हो सकता है। लेकिन, बुजुर्गों और महिलायों में कब्ज़ की समस्या ज्यादा पाई जाती है। कब्ज़ कभी कभी ज्यादा शर्मसार करने वाला बन जाता है। लेकिन, इस बीमारी से शर्माना नहीं चाहिए, अपितु इसका ईलाज शीघ्रता से करवाना चाहिए।

ayurvedic home remedies constipation home remedies for constipation kabz dur krne ke liye gharelu nushke wallpaper kabj se pareshan hain toh apnaiye yeh gharelu nuskhe

डॉक्टर के पास जाने से पहले आपको कब्ज़ की बीमारी को दूर करने के लिए घर पर ही कुछ घरेलु उपायों का इस्तेमाल करके देखना चाहिए। यदि आप घरेलु नुस्खे का प्रयोग करेंगे तो आपकी कब्ज़ की बीमारी तुरंत गायब हो जाएगी।

आइये जानते हैं कि कब्ज की बीमारी को दूर करने के लिए आपको क्या करना है-

Home Remedies for Constipation
कब्ज़ के लिए घरेलू नुस्खे

गर्म पानी और नींबू (Lemon Juice)

नींबू में मौजूद Citric Acid पेट से जमी हुई गंदगी को बाहर निकालने का काम करती है। आप इसका सेवन एक कप गर्म पानी में नींबू निचोड़कर कर सकते हैं। सुबह उठकर रोजाना खाली पेट पीने से आप मोटापे से भी छुटकारा पा सकते हैं।

जैतून का तेल (Olive Oil)

जैतून का तेल आपके पाचन तंत्र को उत्तेजित कर देता है, जिससे आपका पेट आराम से साफ़ हो जाएगा। सुबह उठकर खाली पेट एक चम्मच जैतून के तेल (Olive Oil) का सेवन करने से फायदा होता है। आप चाहे तो इसमें नींबू का रस भी मिलाकर पी सकते हैं।

बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा के सेवन से कब्ज़ 95 प्रतिशत तक ठीक हो सकती है। इसका सेवन करने के लिए एक चौथाई कप गर्म पानी में एक चम्मच बेकिंग सोडा मिला कर पीएं। बेकिंग सोडा को आम बोलचाल की भाषा में मीठा सोडा भी कहा जाता है।

दही (Curd)

कब्ज़ की समस्या को दूर करने के लिए पेट में अच्छे बैक्टीरिया का होना बहुत ही जरुरी है। सादी दही (Curd) से आपको ‘प्रो बायोटिक’ मिलेगा। इसके लिए आप दिन भर में कम से कम एक या दो कप दही का सेवन जरुर करें। दही को नाश्ते में जरुर लें।

प्राणायाम और योगा

कब्ज़ रोग को दूर भगाने के लिए प्राणायाम और योगा भी बहुत फायदेमंद होते हैं। सुबह उठकर रोजाना कम से कम 20 मिनट तक प्राणायाम और योग जरुर करना चाहिए। यह अनेक प्रकार की बीमारियों से बचाता है।

यह भी पढें – सुबह जल्दी कैसे उठें

अमरुद और पपीता

ये दोनों फल कब्ज़ रोगी के लिए अमृत के बराबर हैं। ये फल दिन में किसी भी समय खाए जा सकते हैं। इन फलों में पर्याप्त मात्रा में रेशा होता है, जो आंतों को शक्ति देता है।

फाइबर वाले आहार

गोभी, साबुत अनाज वाली bread, आलु, beans, पत्ता गोभी, टमाटर, गाजर, पत्तेदार सब्जियां, प्याज़ आदि खाइये। रेशायुक्त आहार आराम से हज़म भी हो जाता हैं और कब्ज़ की समस्या को भी मिटा देता है। फ्रूट्स में आप केला, पपीता, खरबूजा, नींबू, आम, अमरुद, सेब और मोसंबी आदि खा सकते हैं।

अलसी के बीज (Flax Seeds)

अलसी के बीज को धीमी सी आंच पर हल्का सा भून कर पाउडर बना लें। फिर एक गिलास पानी में 20 ग्राम पाउडर डालें और तीन घंटे तक गलने के बाद उसे छानकर पी लें। इससे आपको कब्ज़ से छुटकारा मिल जायेगा।

खजूर और दूध

हल्के गर्म दूध में तीन खजूर डालकर सेवन करें। इसका सेवन हफ्ते भर तक करें, आपको जरुर आराम मिलेगा।

दूध और घी

एक गिलास दूध में एक या दो चम्मच शुद्ध घी मिला कर रात को सोने से पहले पीने से कब्ज़ की बीमारी पूरी तरह से गायब हो जाती है।

पत्ता गोभी या पालक का जूस

दिन में आधा गिलास पत्ता गोभी या पालक का जूस पीने से कब्ज़ की बीमारी से राहत मिलती है।

त्रिफला चूरन

त्रिफला चूरन को शहद के साथ मिलकर दिन में दो बार खाना चाहिए। यह एक आयुर्वेदिक उपचार है।

इसबगोल की भूसी

यह कब्ज़ में परम हितकारी है। दूध या पानी के साथ एक या दो चम्मच इसबगोल की भूसी को रात को सोने से पहले लें। यह आंतों की प्रक्रिया को तेज करता है जिससे पेट साफ़ हो जाता है।

अंजीर (Fig)

एक गिलास दूध में ताज़ी अंजीर दाल कर उबाल लें। और फिर इसे रात को सोने से पहले पी लें। अंजीर में पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है जिससे तुरंत राहत मिलती हैं।

अन्य लेख पढें:

दोस्तों, हमें comments के माध्यम से जरुर बताएं कि आपको हमारा यह लेख कैसा लगा। अगर आपके पास भी Hindi में कोई अच्छा article या Inspirational कहानी है जो कि आप लोगों के साथ share करना चाहते हैं तो आप हमें email कर सकते हैं। हमारी Email id है – hinglishtalk@gmail.com

धन्यवाद्! 🙂

Leave a Reply

Your email address will not be published.