मेंढक की प्रेरक कहानी Frog Inspirational Hindi Story

Frog Inspirational Hindi Story for Kids, Do Medhak Hindi Kahani with Moral
Two Frogs – Hindi Inspirational Moral Story for Kids

मेंढक की प्रेरक कहानी
Frog Inspirational Hindi Story

एक बार किसी तालाब के किनारे एक पेड़ के नीचे दो मेंढक रहते थे। एक दिन उन दोनों ने सोचा कि हमने तो बाहर की दुनिया देखी ही नहीं। जंगल के बाहर भी तो कुछ होगा। चलो, जरा इंसानों की दुनिया में घूमकर आते हैं।

यह विचार कर वे दोनों मेंढ़क फुदकते हुए जंगल की सीमा को पार करके शहर पहुंच गए। वहां उन्होंने बहुत कुछ देखा जैसे कि बड़ी-बड़ी ऊंची इमारतें, प्रदूषण फैलाते हुए वाहन, रोटी कमाने की दौड़ में भागते हुए लोग, खेलकुद और पढ़ाई में मस्त नन्हें-नन्हें बच्चे। हर तरफ शोर ही शोर था।

वे दोनों बहुत थक चुके थे। उनका मन कर रहा था कि उन्हें जल्दी से पानी मिल जाए और वे एक गीली जगह पर थोड़ा आराम कर लें।

पानी की तलाश में वे एक दूध वाले की दुकान मे घुस गए। वहां एक बाल्टी रखी थी। उन्हें लगा कि इस बाल्टी में पानी होगा। फिर क्या था झट से दोनों नें एक ऊंची छलांग लगाई और बाल्टी के अंदर पहुंच गए।

लेकिन यह क्या? बाल्टी में तो पानी नही था वह बाल्टी तो मलाई से भरी हुई थी। बेचारे दोनों मेंढक उस मलाई में डूबने लगे। उन दोनों का दम घुटने लगा।

एक मेंढक ने सोचा- मेरा तो अंतिम समय आ गया है। हाय रे मेरी किस्मत! शहर आकार इन अनजान लोगों के बीच ही मरना था। उसने अपने ईश्वर को याद किया और मृत्यु का इंतजार करने लगा।

लेकिन दूसरा मेंढक हार मानने को तैयार ही नही था। वह प्रयास करने लगा कि किसी तरह उस मलाई वाली बाल्टी से बाहर निकल आए। वह अपने पैर ज़ोर से चलाने लगा। बहुत कोशिश करने पर भी वह बार-बार फिसल जाता। फिर भी उसने अपना दिल छोटा नही किया और हिम्मत का दामन नही छोड़ा। वह लगातार कोशिश करता रहा और अपने पैर लगातार चलाता रहा।

तभी अचानक उसने देखा कि वह ऊपर उठने लगा। उसके लगातार ज़ोर-ज़ोर से पैर चलाने से मलाई भी लगातार हिल रही थी और वह माखन बनने लगी। मेंढक में उम्मीद की लहर दौड़ गई। मक्खन के ढेर पर सवार वह साहसी मेंढक ऊपर उठने लगा। तब उस साहसी मेंढक ने बाल्टी से बाहर छलांग लगा दी। अपनी हिम्मत, लगन, मेहनत और जीने की उमंग के कारण वह बच गया। लेकिन निराशावादी मेंढक उसी मलाई की बाल्टी में डूबकर मर गया।

शिक्षा – इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि अधिक बुद्धि या बल ही केवल काम नही आते है। हिम्मत रखने वाले जीवन का संग्राम जीत जाते हैं।

यहां देखें प्रेरणादायक कहानियों का संग्रह

उम्मीद करता हूं कि यह कहानी आपको बेहद पसंद आई होगी। हमें comments के माध्यम से जरुर बताएं कि आपको यह कहानी कितनी पसंद आई। और हां, इस कहानी को अपने मित्रों व रिश्तेदारों के साथ share करना मत भूलें। धन्यवाद! 🙂

अगर आपके पास भी कोई ऐसी ही प्रेरणादायक कहानी या कोई अन्य लेख है, जो कि आप लोगों के साथ share करना चाहते हैं। तो हमें वह लेख अपने नाम और फोटो सहित ईमेल कर सकते हैं। हम आपका भेजा हुआ लेख इस वेबसाइट पर आपके नाम और फोटो सहित प्रकाशित करेंगें। हमारी email id है – hinglishtalk@gmail.com

Tags – Hindi Story, Medhak Hindi Kahani, Story of Frog in Hindi for Kids, Frog Motivational Hindi Story, Motivational Stories in Hindi, Inspiring Short Stories, Life Changing Stories, Moral Stories, Short Stories in Hindi, Stories for Students, Hindi Kahaniyan with Moral, Hindi Kahaniyan for Kids

Leave a Reply

Your email address will not be published.